कार्न फ्लोर, कार्न स्टार्च, कार्न मील, मक्के का आटा, अरारोट: समानता एवं विभिन्नता

Fixed Menu (yes/no)

कार्न फ्लोर, कार्न स्टार्च, कार्न मील, मक्के का आटा, अरारोट: समानता एवं विभिन्नता

Difference Between Corn Starch, Corn Flour,  Corn meal (Pic:britannica)

अक्सर हम ऊपर लिखे सभी नामों को सुनकर भ्रमित हो जाते हैं कि यह एक ही चीज है कि अलग-अलग है। कार्न फ्लोर, कार्न स्टार्च, कार्न मील, मक्के का आटा, अरारोट  क्या है, कैसे बनता है, कहां यूज़ होता है और कौन से अनाज की कैटेगरी में आता है या फिर कौन सा फास्टिंग फूड है? आइए एक-एक करके आपकी सारी दुविधा को दूर करते हैं। 

आर्टिकल पीडिया ऐप इंस्टाल करें व 'काम का कंटेंट ' पढ़ें
https://play.google.com/store/apps/details?id=in.articlepedia

कॉर्न स्टार्च (Corn Starch ) या कॉर्न फ्लोर (Corn Flour)

सबसे पहले आपको बता दें कि कार्न क्या होता है ? भुट्टा तो आप सभी ने देखा ही होगा तो जो एक पूरा भुट्टा होता है उसको बोलते हैं मक्का(Maize)और जो उसका एक दाना होता है उसको बोलते हैं कार्न (Corn)। अब कार्न को अपने ध्यान से देखा होगा कि उसके ऊपर का भाग पीले कलर का होता है और नीचे की तरफ का सफेद रंग का होता है। इस सफेद रंग के भाग को बोलते हैं 'एंडोस्पर्म' (Endosperm) जिसको सुखाकर पीसा जाता है। पीसने के बाद यह एक सफेद रंग का पाउडर बनता है, जो कि बहुत ही ज्यादा स्टार्ची होता है।  आम बोलचाल की भाषा में इसी को बोलते हैं कॉर्नफ्लोर या कार्न स्टार्च।

यह एक थिकनिंग एजेंट की तरह काम करता है जिसका उपयोग रेसिपी को गाढ़ा करने में किया जाता है। जैसे कि किसी सब्जी की ग्रेवी को गाढ़ा किया जाता है, टोमैटो केचप (Tomato Ketchup) में भी इसका उपयोग होता है गाढ़ा करने के लिए। यह एक बाइंडिंग एजेंट का भी काम करता है जिसको कराची हलवा में उपयोग किया जाता है। कुकीज बनाने में इसका वाइंडिंग एजेंट की तरह उपयोग किया जाता है। सबसे ज्यादा इसका उपयोग चाइनीस खाने में होता है। 

Difference Between Corn Starch, Corn Flour,  Corn meal (Pic:epicurious)

फ्रेंच फ्राई बनाते समय भी कॉर्नफ्लोर (Corn Flour) का इस्तेमाल उसको करारा करने के लिए किया जाता है। कस्टर्ड पाउडर का मुख्य घटक भी कॉर्नफ्लोर या स्टार्च ही होता है। यह कलर लेस और फ्लेवरलेस होता है इसलिए आसानी से हम इसको किसी भी रेसिपी में इस्तेमाल कर लेते हैं। सबसे अच्छी बात कि यह ग्लूटेन फ्री (Gluten Free) होता है इसलिए जिन लोगों को ग्लूटेन से एलर्जी होती है उनके लिए यह बहुत ही फायदेमंद है। यह आसानी से किसी भी ग्रॉसरी शॉप में मिल जाता है। इसको एयर टाइट डिब्बे में स्टोर करके रखें, नहीं तो नमी के संपर्क में आने से यह खराब हो जाता है।


कॉर्न मील (Corn meal ) और मैज़ फ्लोर (Maize flour ) या मक्के का आटा

 मक्के के दानों को सुखाकर जब पीसा जाता है तो हल्के पीले रंग का दरदरा पाउडर मिलता है जिसको हम बोलते हैं कार्न मील या मैज़ फ्लोर या मक्के का आटा। इसका उपयोग रसोई में रोटी,चीला, ढोकला, मठरी बनाने में किया जाता है। ठंड के दिनों में इसका बहुत ज्यादा उपयोग घरों में किया जाता है।

Difference Between Corn Starch, Corn Flour,  Corn meal (Pic:amazon)


अब आप समझ गए होंगे कि कॉर्नफ्लोर और कार्न स्टार्च एक ही है और मैज़ (maize)फ्लोर और कार्न मिल या मक्के का आटा एक ही है। दोनों एक ही चीज से बनाया जाता है लेकिन दोनों को बनाने का तरीका और उनका उपयोग बिलकुल अलग है।

अरारोट( Arrowroot)

अरारोट एक ट्रॉपिकल पौधा होता है, जिसके रूट या जड़ को पीसा जाता है, तो एक सफेद रंग का महीन पाउडर बनता है, जो कि बहुत ही ज्यादा स्टार्ची होता है। इसमें बहुत सारे विटामिंस (Vitamins) भी पाए जाते हैं और यह एक हर्बल पाउडर होता है। इसका उपयोग बेबी फूड(Baby Food) बनाने में ,जेली बनाने में और सूप बनाने में किया जाता है। क्योंकि इसमें बहुत सारे विटामिंस पाए जाते हैं इसलिए यह हमारे पाचन क्रिया को दुरुस्त रखता है।

 कॉर्नफ्लोर के जैसे ही आरारोट भी रेसिपीज में थीकनिंग और बाइंडिंग एजेंट का काम करता है। दोनों दिखने में भी एक समान हैं ।

अरारोट का इस्तेमाल व्रत में किया जाता है क्योंकि यह पूरी तरह से पेड़ों के जड़ से बना रहता है और इसमें कोई भी मिलावट नहीं रहती है। यह ग्लूटेन फ्री होता है इसलिए अगर किसी को ग्लूटेन से एलर्जी है तो उसको इसका इस्तेमाल करना चाहिए। आपको जानकर हैरानी होगी कि इसके उपयोग से वजन कम ( Weight Loss) होता है, क्योंकि इसमें बहुत कम  कैलोरी होती है और यह फैट फ्री होता है। आप कॉर्नफ्लोर की जगह पर अरारोट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अब आप समझ गए होंगे कि कॉर्नफ्लोर या कार्न मिल या अरारोट कैसे बनता है? कैसे उपयोग होता है? और इन तीनों में क्या अंतर है?।

लेखिका: पूनम सिंह, भिलाई  


अस्वीकरण (Disclaimer): लेखों / विचारों के लिए लेखक स्वयं उत्तरदायी है. Article Pedia अपनी ओर से बेस्ट एडिटोरियल गाइडलाइन्स का पालन करता है. इसके बेहतरी के लिए आपके सुझावों का स्वागत है. हमें 99900 89080 पर अपने सुझाव व्हाट्सअप कर सकते हैं.
क्या आपको यह लेख पसंद आया ? अगर हां ! तो ऐसे ही यूनिक कंटेंट अपनी वेबसाइट / ऐप या दूसरे प्लेटफॉर्म हेतु तैयार करने के लिए हमसे संपर्क करें !
** See, which Industries we are covering for Premium Content Solutions!

Web Title: Premium Hindi Content on...




Post a comment

0 Comments