कैसे करें मशरूम बीज (स्पाॅन) तैयार?

Fixed Menu (yes/no)

कैसे करें मशरूम बीज (स्पाॅन) तैयार?

How To Make Mushroom Spawn (Pic: grocycle)

मशरूम की खेती इस समय तेजी से चलन में है और इसको आसान बनाने के लिए रोज नए प्रयोग किये जा रहे हैं। ऐसे में .मशरूम बीज (स्पाॅन) कैसे तैयार करें, और मशरूम बीज (स्पॉन) बनाते समय क्या- क्या सावधानियां हमें बरतनी चाहिए इसके बारे में जानेंगे।  

आर्टिकल पीडिया ऐप इंस्टाल करें व 'काम का कंटेंट ' पढ़ें
https://play.google.com/store/apps/details?id=in.articlepedia


मशरूम बीज (स्पॉन)बनाने की विधि—    

इसके लिए सबसे पहले किसी भी अनाज का बीज चाहिए जिसमें (राई, ज्वार, गेहूं, धान, मक्का) शामिल हो सकता है।


इसके बाद एक किलोग्राम अनाज के दाने को सर्वप्रथम 1.5 लीटर पानी में 20 से 30 मिनट तक उबाला जाता है, फिर उबले हुए दानों को छलनी पर या किसी अन्य कपड़े पर फैलाया जाता है और इसे कुछ घंटों तक छाया में सुखाते हैं। यह प्रक्रिया तब तक करते हैं जब तक उसकी नमी 55 से 65 प्रतिशत न रह जाये। 


इसके बाद सूखे हुए दानों में 5 ग्राम कैल्शियम कार्बोनेट (चाक पाउडर) और 20 ग्राम कैल्शियम सल्फेट (जिप्सम) को अच्छी तरह से मिलाते हैं तथा इन दानों को बोतल में दो तिहाई हिस्से तक पॉली- प्रोपिलीन के लिफाफे में भर दिया जाता है, लिफाफे में भी दाने उपलब्ध खाली जगह के दो भाग तिहाई तक ही भरा जाता है। 

पॉलीथिन के मुंह पर रूई (जो पानी ना सोखती हो) नूमा ढक्कन से उसके मुंह को बंद कर दिया जाता है। जिससे रुई ना ही अधिक कसा हो और ना ही अधिक ढीला हो।

मशरूम बीज सामग्री से भरी हुई पाॅली- प्रोपलीन के लिफाफे को 121 डिग्री सेल्सियस तापमान पर 2 घंटे के लिए निर्णय मिश्रित किया जाता है फिर उन्हें लैमिनार फ्लो में रोगाणु रहित हवा में ठंडा होने के लिए रखा जाता है।

कवक जाल संवर्धन को निवेशन छड़ की सहायता से उन बोतलों में डाल दिया जाता है और उन बोतलों को 2 से 3 सप्ताह के लिए 25 डिग्री सेल्सियस तापमान पर ऊष्मा दिया जाता है।

दो-तीन सप्ताह के बाद मशरूम बीज उपयोग हेतु तैयार हो जाता है।

इसी तरह, अनेक प्रकार के बीजों से मशरूम के बीज बनाए जाते हैं।


मशरूम बीज (स्पॉन) बनाते समय सावधानियां—

मशरूम बीज बनाते समय बोतलों या बैगो को इतना कसकर भी नहीं बनाना है कि हवा अंदर ना आ सके और भाप अच्छी तरह से अंदर प्रवेश न कर सके।

केवल साफ रुई का ही ढक्कन ऊपर प्रयोग करना चाहिए।

रुई के ढक्कन के नीचे की स्तर और पॉलिथीन में रखे सामग्री के बीच कम से कम 3 से 4 सेंटीमीटर खाली स्थान होनी चाहिए।

मशरूम बीज बनाने की प्रक्रिया में ऑटोक्लेव करने के समय रुई की डाट को भीगने से बचने के लिए उसे एल्यूमीनियम से ढक देना चाहिए।

मशरूम बीज बनाने के दौरान हाथों को साबुन या रोगाणु रहित करने वाले पदार्थ से हाथों को साफ कर लेना चाहिए।

केवल शुद्ध मशरूम बीज (स्पाॅन) का ही इस्तेमाल करनी चाहिए।



मशरूम बीज (स्पाॅन) का भंडारण

मशरूम बीज का भंडारण कुछ इस प्रकार से किया जा सकता है। जैसे- पुआल मशरूम के लिए 15 से 20 डिग्री सेल्सियस तथा बंटन ढींगरी (ओएस्टर) मशरूम के लिए 4 डिग्री सेल्सियस तापमान पर भंडारण किया जाता है। इस तापमान पर कवक जाल की वृद्धि रुक जाती है तथा कवक जाल को कोई नुकसान भी नहीं पहुंचता और मशरूम बीज (स्पाॅन) का लंबे समय तक भंडारण किया जा सकता है।

मशरूम के स्पॉन बनाने के बारे में यह जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताएं  


-टीम आर्टिकल पीडिया 


अस्वीकरण (Disclaimer): लेखों / विचारों के लिए लेखक स्वयं उत्तरदायी है. Article Pedia अपनी ओर से बेस्ट एडिटोरियल गाइडलाइन्स का पालन करता है. इसके बेहतरी के लिए आपके सुझावों का स्वागत है. हमें 99900 89080 पर अपने सुझाव व्हाट्सअप कर सकते हैं.
क्या आपको यह लेख पसंद आया ? अगर हां ! तो ऐसे ही यूनिक कंटेंट अपनी वेबसाइट / ऐप या दूसरे प्लेटफॉर्म हेतु तैयार करने के लिए हमसे संपर्क करें !
** See, which Industries we are covering for Premium Content Solutions!

Web Title: Premium Hindi Content on...




Post a comment

0 Comments