सामूहिक प्रयास से जीता जा सकता है कोरोना महामारी से जंग

Fixed Menu (yes/no)

सामूहिक प्रयास से जीता जा सकता है कोरोना महामारी से जंग



जब कोविड ने भारत में पांव पसारना शुरू किया तब से लेकर लगातार लापरवाही का खुला खेल देखा जा रहा है। और यह लापरवाही केवल नागरिकों तक ही सीमित नही है बल्कि इसमें सरकारें, शासन, प्रशासन और जिम्मेदार लोग भी शामिल है। कहने को भले कहा जाये लेकिन सच्चाई यह ही है कि सामूहिक लापरवाही की वजह से ही भारत के हर एक नागरिक को इस महामारी से दो चार होना पड रहा है। कहने को तो सरकारों के तरफ से काफी नियम कानून बनाये गये  लेकिन नियम कानून को पालन कराने में स्थानीय प्रशासन काफी हद तक पीछे रही, जिसकी मुख्य वजह लोगो की मनमानी रही। और जनता ने भी सरकार के तरफ से जारी गाइडलाइंस का मनमानी ढंग से पालन किया। लोगो को लगता रहा कि सरकार और प्रशासन के लोग कह रहे है तो क्या हुआ? हम तो स्वतंत्र है और स्वतंत्रता पूर्वक हर नियम कानून को मानेंगे। हालांकि...


आर्टिकल पीडिया ऐप इंस्टाल करें व 'काम का कंटेंट ' पढ़ें
https://play.google.com/store/apps/details?id=in.articlepedia


हालांकि सरकार और स्थानीय प्रशासन की सख्ती और लाॅकडाऊन की वजह से बेहद परिणाम अच्छे दिखने लगे थे। लेकिन खुलेआम लापरवाही और मनमानी होने से देश फिर से महामारी की चपेट में आ गया। और पिछली बार की अपेक्षा दूसरी बार सारे रिकार्ड टूट गये। जो कही न कही देश के लिए काफी चिंताजनक है। और इस महामारी से बचने के लिए देश के हर एक नागरिक को सरकार के तरफ से जारी दिशा-निर्देश को मानना नितांत आवश्यक है। जिस तरह इस महामारी की वजह से देश की आर्थिक व्यवस्था ध्वस्त हो रही है, देश में बेरोजगारी और गरीबी रही है। अस्पतालों की स्थिति एकदम बदतर हो गई है। इन सभी को सही करने के लिए भारत के हर एक नागरिक को सरकार के निर्देश का पालन करना ही अच्छा विकल्प है। 

इसे भी पढ़ें...

भारत तो पहले से ही विभिन्न तरह की आर्थिक, वैश्विक, सामाजिक, आन्तरिक समस्याओं से घिरा है। लेकिन इसी बीच बीते वर्ष से कोरोना महामारी ने देश की कमर तोड़ने में अहम भूमिका निभा रहा है। और इसमें लोगो की लापरवाही और मनमानी देश को और कमजोरी प्रदान कर रहा है। देश में इतने संकट के बावजूद भी कुछ नेता है जो अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने से बाज नही आ रहे है और सरकार के ऊपर तरह तरह के आरोप लगाने पर जुटे है। जबकि पूरा विश्व जान रहा है कि कोरोना महामारी एक वैश्विक महामारी है। जिस पर विश्व के सभी देश अपने अपने स्तर पर अपने देश के लोगों को बचाने के लिए लाॅकडाऊन समेत नियम कानून बनाये है। और लोगो को इस पर अमल कराने के लिए प्रयासरत है। इसीलिए विपक्ष के नेताओं को इस महामारी के दौरान राजनीति करने की जगह सरकार के तरफ से जारी दिशा-निर्देश का पालन कराने में सहयोग करना चाहिए। क्योकि कोई भी देश तभी उन्नति करता है जब बाहरी आक्रमण, महामारी, देश की एकता और अखंडता बनाये रखने के दौरान एकजुट रहता है और अपने राजा या शासक के नेतृत्व में देशहित को सर्वोच्च मानता है। और इस समय भारत समेत पूरे विश्व के देशों को आपसी राजनीतिक लाभ हानि भुलाकर देश से कोरोना महामारी से कैसे निपटा जाये इस पर एकजुट होकर और एकमत होकर कार्य करने की जरूरत है।

इस महामारी से छुटकारा पाने के लिए केवल नेता ही जिम्मेदार नही है बल्कि देश का आम नागरिक भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। आम आदमी को केवल वैसा करना है जैसा सरकार के तरफ से कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए दिशा-निर्देश जारी किया गया है। बस उसके हिसाब से कार्य करना है। लोगो को सोचना चाहिए कि सरकारे इस महामारी को लेकर कितना चिंतित है और लगातार अपने नागरिकों की रक्षा के लिए प्रयासरत है। यदि इस दौरान आम जनता सरकार के तरफ से जारी निर्देश को नही मानती है तो इसमें सरकार का दोष क्या है? सभी को सरकार के दिशा-निर्देश को मानना जरूरी है।

इसे भी पढ़ें...

जरा सोचिए कि आज देश में कोरोना महामारी की वजह से अस्पताल रोगियों से भरे पड़े है। और रोगियों की संख्या यदि बढती रहेगी तो कितने दिन अस्पताल लोगो का ईलाज कर सकेंगे। इसलिए देश को इस महामारी से अब भी बचाने में देश के एक एक नागरिक की अहम भूमिका है। जो देश को इस महामारी से उबारने में सहायक सिद्ध हो सकता है। इस समय केवल सरकार के ऊपर ही इसकी जिम्मेदारी छोडना सही नही है इसकी जिम्मेदारी में हर एक नागरिक को अपना भी रोल निभाना जरूरी है। क्योकि यदि केवल सरकार को ही जिम्मेदार मानकर हम लोग लापरवाही करते है तो वह दिन जल्दी ही देखने को मिल सकता है जब सरकार भी मजबूरी में कोई बडा कदम उठा सकती है। इसलिए इस महामारी के प्रभाव को कम करने में हम को अपनी अपनी जिम्मेदारी का वहन कराना जरूरी है।
 
सरकार के प्रयास से कोरोना संक्रमण का टेस्ट की और टीकाकरण भी पूरे देश में चलाया जा रहा है। जिसमें देश के हर नागरिक का कर्तव्य है कि अपना टेस्ट कराकर संक्रमण को बढने से रोकने में सहायक हो तथा ऐसे लोग जो अभी तक वैक्सीनेशन नही करा सके है वे भी टीका लगवाकर इस महामारी से लडने में अपनी भूमिका निभायें।

देखा जा रहा है कि संक्रमण बढने से लोग शहरों से अपने गांव के तरफ भारी संख्या में पलायन कर रहे है। उनको भी चाहिए कि आने के बाद अपनी जांच करायें और स्थानीय प्रशासन को सूचित करे जिससे प्रशासन उनकी निश्चित अवधि तक देखभाल कर सके और संक्रमण फैलने से रोका जा सके। यदि लोग मनमानी तौर पर शहरों से आकर गांवों में रहने लगे और उनके माध्यम से ही संक्रमण उनके परिवार और गांव को चपेट में ले सकता है। इसलिए मनमानी करने से सभी लोग बचे। तभी इस वैश्विक महामारी से छुटकारा पाया जा सकता है।

 
देश में बहुत लोगो को शिकायत है कि कोरोना का संक्रमण तेजी से बढने के बावजूद भी विभिन्न जगहों पर चुनाव हो रहा है जो संक्रमण को बढाने में सहायक है। बेशक लोगो का आरोप तो सही है लेकिन सरकार की भी कुछ मजबूरियां व चुनौतियां है जिसे पूरा करना भी जरूरी है। क्योकि कुछ नियम और कानून है जिसका नियत समय पर पालन होना जरूरी है। क्योकि हम आप एक सामान्य नागरिक है और चुनावों में हो रही भीड़ पर संजिदा है। हम सबसे कही ज्यादा संजिदा चुनाव आयोग है जो हर पहलू को समझने के बाद ही चुनाव के तिथियों को निश्चित कर रहा है। हालांकि सरकार के कार्यो पर सवाल उठाने की अपेक्षा हमें यह ध्यान देना चाहिए कि हम कितना सरकार के दिशा-निर्देश का पालन कर रहे है। क्योकि इस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए सरकारे और स्थानीय प्रशासन अपना 'बेस्ट' करने पर लगे है। और इसे आम आदमी का सहयोग 'दि बेस्ट' बना सकता है। इसीलिए देश के हर एक नागरिक का कर्तव्य है कि इस महामारी से निपटने के लिए सरकार के एक एक दिशा-निर्देश का पालन बडी ही जिम्मेदारी और ईमानदारी से करें।

लेखक: संतोष कुमार तिवारी (Writer Santosh Kumar Tiwari)

अस्वीकरण (Disclaimer): लेखों / विचारों के लिए लेखक स्वयं उत्तरदायी है. Article Pedia अपनी ओर से बेस्ट एडिटोरियल गाइडलाइन्स का पालन करता है. इसके बेहतरी के लिए आपके सुझावों का स्वागत है. हमें 99900 89080 पर अपने सुझाव व्हाट्सअप कर सकते हैं.
क्या आपको यह लेख पसंद आया ? अगर हां ! तो ऐसे ही यूनिक कंटेंट अपनी वेबसाइट / ऐप या दूसरे प्लेटफॉर्म हेतु तैयार करने के लिए हमसे संपर्क करें !
** See, which Industries we are covering for Premium Content Solutions!

Web Title: Premium Hindi Content on Corona, Corona and Community Effort, Hindi Article by Santosh Tiwari




Post a comment

0 Comments