सद्गुरु सदाफल देव का आध्यात्मिक आश्रम पकड़ी बलिया #ExploreBallia

Fixed Menu (yes/no)

सद्गुरु सदाफल देव का आध्यात्मिक आश्रम पकड़ी बलिया #ExploreBallia

आर्टिकल पीडिया ऐप इंस्टाल करें व 'काम का कंटेंट ' पढ़ें
https://play.google.com/store/apps/details?id=in.articlepedia


Sadafal Dev Ashram Pakadi 

बलिया जिले के तमाम आध्यात्मिक और विशाल आश्रमों में से एक आश्रम पकड़ी का 'सद्गुरु सदाफल देव' महाराज का आश्रम भी है। 

सद्गुरु सदाफल देव के नाम से प्रसिद्ध है इस आश्रम में न केवल देश के बल्कि तमाम विदेशी भी आते हैं। बाहर से आने वाले दर्शनार्थियों के लिए बकायदा अलग से हॉस्टल का भी निर्माण किया गया है। आश्रम के वृहद परिसर में बेहद करीने से हर एक चीज़ को प्रबंधित करके इस आश्रम का निर्माण किया गया है। 

Sadafal Dev Ashram Pakadi 

बताया जाता है कि सदाफल देव जी महाराज अपने जमाने के एक सरल सिद्ध महात्मा थे, जिन्होंने जीवित ही समाधि ले ली थी। इसी समाधि स्थान पर भव्य निर्माण किया गया है। गुरु परम्परा को आगे ले जाते हुए सदाफल देव जी महाराज के पुत्र धर्मचंद्र जी महराज और तीसरी पीढ़ी में स्वतंत्र देव जी महाराज तत्कालीन समय में गद्दी पर विराजमान हैं।  

Sadafal Dev Ashram Pakadi 

बलिया मुख्यालय से तकरीबन 25 किलोमीटर दूर स्थित पकड़ी गांव में एकांत में इस भव्य आश्रम का निर्माण किया गया है। यहां सुरक्षा के चाक-चौबंद प्रबंध है। 

Sadafal Dev Ashram Pakadi 

चुकी तमाम धार्मिक स्थल आज के समय में टूरिस्ट स्पॉट भी बनते जा रहे हैं,ऐसे में सदाफल देव महाराज का यह स्थान भी एक पर्यटक स्थल की ही भांति विकसित किया गया है। बेहद करीने से सजी रोड, फूलों की क्यारियां, तमाम पौधे इत्यादि आप का मन मोह लेंगे। एक सुंदर सरोवर भी इस परिसर की शोभा बढ़ाता है। सेल्फी के लिए भी यह स्थान परफेक्ट माना जाता है। 
Sadafal Dev Ashram Pakadi 

बलिया जिले के विभिन्न जगहों को एक्स्प्लोरकर रहे हैं और विभिन्न स्थानों पर घूमना चाहते हैं तो आप यहाँ अकेले या पूरे परिवार के साथ इसी स्थान पर जरूर जाएं। 



राइटर - विंध्यवासिनी सिंह 

फोन नंबर - 9990089080
ईमेल - [email protected]


क्या आपको यह लेख पसंद आया ? अगर हां ! तो ऐसे ही यूनिक कंटेंट अपनी वेबसाइट / ऐप या दूसरे प्लेटफॉर्म हेतु तैयार करने के लिए हमसे संपर्क करें !
** See, which Industries we are covering for Premium Content Solutions!

Web Title: Premium Hindi Content on...






Post a comment

1 Comments